Nextgenpublication.com
logo
book

0

0 ratings and 0 reviews

Kuch Ankahe Jajbaat (कुछ अनकहे जज़्बात)

Author -Rahul Shrivas
Category - Poetry & Gazal

Description- कहते हैं सच्चा प्रेम अंतर्मन को छूने की कला है, एक कोमल एहसास, एक सुखद अनुभूति, एक अदृश्य आकर्षण, और कहीं कहीं प्रेम वियोग भी है, परंतु इन सब से उपर प्रेम ईश्वर की भक्ति भी है। जहाँ हमने प्रेम की बात की वहीं देश काल और परिस्थिति के अनूरुप इसके बदलते स्वरूप को भी उकेरने की कोशिश की हैं, कम शब्दों में दिल को छू लेने वाली ये रचनाएँ अत्यंत मर्मस्पर्शी है, यहाँ प्रीतम और प्रेमिका के अनकहे जज़्बात है जिसे शब्दों में ढाल कर ग़ज़ल का नाम दिया है। ग़ज़ल नज़्म शेर और कविताओं के ये गुच्छे आपको एक नवीन दर्शन का आभास कराएंगे।
ISBN - 9788194555384

₹149/-
₹249 /-
Paperback ₹199/-

Reviews







FEATURED BOOKS